World of Education Global Organization
View MCQ Questions in Both or English || Hindi Language

राजा ने किले में छिपाया है बेहिसाब रत्न और सोना, इंदिरा ने भी कोशिश की थी निकालने की पर......

2 years ago | afrex

एक ऐसा किला जिसमे अरबो खरबो की कीमत का बेहिसाब रत्न और सोना गाड़ा गया है। वो किला जिसमे पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने भी अपनी पूरी ताकत लगा दी थी ये संपदा निकालने के लिए। लेकिन ये धन तो मानो एक रहस्य ही बन कर रह गया है। हम बात कर रहे हैं अरावली पर्वत पर निर्मित जयगढ़ के किले की। आज हम आपको बताने वाले हैं इसी रहस्मयी किले के बारे में।

राजा ने किले में छिपाया है बेहिसाब रत्न और सोना, इंदिरा ने भी कोशिश की थी निकालने की पर......

जयगढ़ के किले का निर्माण सवाई जयसिंह ने करवाया था। ऐसा बताया जाता है कि इस किले में आज भी अरबों-खरबों का खज़ाना सोना चांदी और रत्नों के रूप में छिपा हुआ है। इतिहास की अगर बात की जाए तो राजा मान सिंह और अकबर के बीच एक संधि हुई थी। इस संधि के अनुसार यह तय किया गया था कि राजा मान सिंह जिस किसी भी क्षेत्र पर विजय प्राप्त करेंगे वहां बादशाह अकबर का राज होगा, लेकिन वहां से मिले धन संपदा पर राजा मान सिंह का हक़ होगा। ऐसा बताया जाता है कि युद्धों की जीत से मिले बेहिसाब खजाने को राजा मान सिंह ने किले के तहखाने में छुपा कर रखा था।

राजा ने किले में छिपाया है बेहिसाब रत्न और सोना, इंदिरा ने भी कोशिश की थी निकालने की पर......

राजा ने किले में छिपाया है बेहिसाब रत्न और सोना, इंदिरा ने भी कोशिश की थी निकालने की पर......

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को जब इस खज़ाने की ख़बर मिली तो उन्होंने इस ख़ज़ाने को खोजने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी थी। तकरीबन छह महीने तक जयगढ़ के किले में छिपे खजाने की तलाश की गई लेकिन कुछ भी नही मिला। इस खजाने के बारे में आज तक किसी को कोई खबर नही है। यह खजाना सिर्फ एक रहस्य मात्र बन कर रह गया है।

राजा ने किले में छिपाया है बेहिसाब रत्न और सोना, इंदिरा ने भी कोशिश की थी निकालने की पर......

Images from Wikimedia.org

Recommended
Please Like and Share...